फिल्टर प्लांट पर असामाजिक तत्वों का हंगामा ,तोड़फोड़ ,दमोह कलेक्टर के बंगले की सीमा से लगा है फिल्टर प्लांट सुरक्षा सवालों के घेरे में?


दमोह: दमोह नगर पालिका का फिल्टर प्लांट जिससे दमोह शहर में पानी की सप्लाई होती है। फिल्टर प्लांट की सुरक्षा भगवान भरोसे है ।यहां पर असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगता है ।बीते 1 माह में यह दूसरी घटना है। फिल्टर प्लांट पर तोड़फोड़ की गई। कर्मचारियों से मारपीट की गई ।कुर्सियों में आग लगाई गई । कर्मचारी किसी तरह से जान बचाकर भागे, काफी देर तक हंगामा चलता रहा। बाद में प्लांट के अधिकारियों को जानकारी लगी, तो वह मौके पर पहुंचे। एफ आई आर दर्ज नहीं हुई है। देर रात का बताया जा रहा है। फिल्टर प्लांट के समीर रहने वाले असामाजिक तत्वों ने यहां पर जमकर उत्पात मचाया , असामाजिक तत्वों के हौसले बुलंद है। भले ही फिल्टर प्लांट कलेक्टर बंगला लगा हुआ हो। लेकिन सुरक्षा व्यवस्था मजबूत नहीं है। पहले भी अधिकारी ने ध्यान नहीं दिया। 2 कर्मचारी मारपीट का शिकार हुए। साथ ही फिल्टर प्लांट को लेकर भी अब सुरक्षा पर गंभीर प्रश्न चिन्ह खड़ा है। क्योंकि संपूर्ण नगर में यहीं से पानी सप्लाई होती है ।अगर असामाजिक तत्व इस पानी में कुछ भी मिला दे आप समझ सकते हैं। इस शहर का हाल क्या होगा। क्या जिम्मेदार बेखबर है। या जानबूझकर सुरक्षा पर ध्यान नहीं देते?

Leave a Reply

Your email address will not be published.