कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान और किर्गिजस्तान में हुआ ब्लैकआउट


कजाकिस्तान, एजेंसी। मध्य एशियाई देशों में एक साथ जोरदार बिजली संकट की जानकारी सामने आई है। तीन देश कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान और किर्गिजस्तान अंधेरे में डूब गए हैं। इस कारण ताशकंद हवाई अड्डे पर विमानों की आवाजाही रोक दी गयी है।

कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान और किर्गिजस्तान में अचानक बिजली गुल हो जाने से मध्य एशिया के तीन बड़े शहर ताशकंद, अलमाती और बिश्केक एक साथ अंधेरे में डूब गए। कजाकिस्तान बिजली ग्रिड ऑपरेटिंग कंपनी के मुताबिक उत्तरी कजाकिस्तान को दक्षिणी कजाकिस्तान से जोड़ने वाली बिजली लाइन ही ग्रिड से किर्गिस्तान व उज्बेकिस्तान को जोड़ती है। उक्त आपूर्ति लाइन के सेंट्रल एशियन पावर सिस्टम में अचानक आपूर्ति व उपलब्धता में असंतुलन हो जाने के कारण बिजली गुल हो गयी। इस कारण तुर्किस्तान के शिमकेंत और तराज सहित दक्षिणी इलाकों में भी बिजली चली गयी। उज्बेकिस्तान के ऊर्जा मंत्री ने भी बिजली आपूर्ति ठप होने की पुष्टि की।

बिजली आपूर्ति ठप हो जाने के कारण उज्बेकिस्तान की राजधानी ताशकंद में आवागमन भी बाधित होने की जानकारी सामने आयी है। ताशकंद हवाई अड्डे का संचालन इस कारण बुरी तरह प्रभावित हुआ है। बताया गया कि ताशकंद हवाई अड्डे पर विमानों का आवागमन भी अस्थायी रूप से रोक दिया गया।

उज्बेकिस्तान के अधिकारियों ने भी इस संकट के लिए विद्युत आपूर्ति प्रणाली में आए आकस्मिक व्यवधान को संकट का कारण करार दिया है। इस व्यवधान के मूल कारणों की पड़ताल की जा रही है। पूर्व सोवियत संघ के अंग रहे इन तीनों देशों के लिए बिजली संकट नई बात नहीं है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.