प्रसाद के लिए पुजारी को बेरहमी से पीटा : इलाज के दौरान हुई मौत, खूबत बाबा मंदिर पर पूजा-अर्चना के दौरान हुआ था विवाद


सह.सम्पादक अतुल जैन की रिपोर्ट

शिवपुरी । जिले के सतनवाड़ा थाना क्षेत्र में स्थित खूबत बाबा मंदिर में प्रसाद के लिए पुजारी को एक परिवार के लोगों ने बेरहमी से पीटा। घटना एक हफ्ते पहले की है, जब पूजा अर्चना करने गए पुरानी शिवपुरी निवासी खेमचंद्र रजक के परिवार के लोग और दोस्तों ने वहां के पुजारी संतोष को प्रसाद के लिए जमकर पीटा। मारपीट के बाद पुजारी संतोष शिवहरे बेहद गंभीर रूप से घायल हो गया। संतोष को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी हालत लगातार बगड़ती चली गई। हालत बिगड़ने पर 25 जनवरी को संतोष को इलाज के लिए ग्वालियर रेफर कर दिया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

घेराव की योजना, पुलिस ने रोकी लाश

बताया जा रहा है कि लाश के ग्वालियर से शिवपुरी आने पर आरोपियों पर हत्या का मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार करने की मांग करते हुए एसपी ऑफिस का घेराव करने की योजना कुछ लोगों ने बनाई गई थी। इस बात की जानकारी पुलिस को लग गई, जिस पर एसडीओपी अजय भार्गव ने पुलिस फोर्स के साथ पहुंच कर लाश को नवग्रह मंदिर पर ही रोक दिया। करीब एक घंटे तक चली समझाइश और उचित कार्रवाई के आश्वासन के बाद परिजन बिना किसी प्रदर्शन के अंतिम संस्कार करने के लिए राजी हुए।

कोरोना पॉजिटिव तो कैसे सौंप दी लाश

अगर पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों की मानें तो ग्वालियर में संतोष का कोविड टेस्ट कराया गया था। वहां उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी। ऐसे में एक पहलू यह भी है कि अगर संतोष पॉजिटिव था तो उसकी लाश परिजनों को कैसे सौंप दी गई। उसके अंतिम संस्कार में कोरोना गाइडलाइन का पालन क्यों नहीं किया गया?

बेसहारा हुईं बहन और मां

मृतक संतोष के पिता की काफी पहले मृत्यु हो चुकी थी और छोटा भाई भी कुछ साल पहले एक हादसे में मौत के आगोश में समा गया था। संतोष की चार बहनों में से तीन की शादी हो गई थी, एक बहन और मां संतोष के सहारे ही थीं। बताया जा रहा है कि संतोष ने भी उनकी जिम्मेदारी निभाने के लिए शादी नहीं की थी। अब संतोष की मौत के बाद वह दोनों बेसहारा हो गई हैं।

इनका कहना है

दोनों पक्षों का खूबत बाबा मंदिर पर झगड़ा हुआ था, संतोष शिवहरे को ग्वालियर रेफर किया गया जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। संतोष कोरोना पॉजीटिव है ऐसा वहां हॉस्पिटल में बता रहे थे लेकिन अभी कोई रिपोर्ट हमारे पास नहीं आई है। अगर कोरोना पॉजीटिव होगा तो अंतिम संस्कार में कोरोना गाइडलाइन का पालन होगा। –

अजय भार्गव, एसडीओपी शिवपुरी



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.