अधिकारियों को निर्देश, जल जीवन मिशन में गुणवत्ता युक्त कार्य होना चाहिए, अन्यथा ठेकेदार पर करें कार्रवाई


सह.सम्पादक अतुल जैन की रिपोर्ट


शिवपुरी।
जल जीवन मिशन अंतर्गत गांव में हर घर नल से जल पहुंचाने के लिए नल कनेक्शन किए जा रहे है। इसके अलावा स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों में भी टैंक बनाकर नल कनेक्शन किए जा रहे हैं। इसमें विभिन्न ठेकेदारों को कार्य सौंपा गया है। जनप्रतिनिधियों और कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह द्वारा लगातार क्षेत्र का भ्रमण किया जाता है। भ्रमण के दौरान जल जीवन मिशन के तहत किए जा रहे कार्यों का भी जायजा लिया जाता है। जल जीवन मिशन के अंतर्गत लाभान्वित हितग्राहियों से संवाद के लिए शुक्रवार को राज्य स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान शिवपुरी के एनआईसी कक्ष में लोक निर्माण विभाग राज्य मंत्री सुरेश धाकड़ भी मौजूद थे। उन्होंने एनआईसी कक्ष में उपस्थित पोहरी में कार्य कर रहे ठेकेदारों के कार्य के प्रति नाराजगी व्यक्त की और कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री एल पी सिंह को जल जीवन मिशन के तहत किए जा रहे कार्य में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए।
 बैठक में कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने भी स्पष्ट शब्दों में कहा है कि इस इस योजना के तहत गांव में अभी काम किया जा रहा है। ठेकेदारों द्वारा गुणवत्तायुक्त काम होना चाहिए अन्यथा संबंधित ठेकेदार के विरुद्ध कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि ठेकेदार द्वारा काम किया जा रहा है। उस दौरान गांव में खुदाई भी की जाती है। ऐसे में सड़कें खराब हो जाती हैं। इन सड़कों की मरम्मत भी समय पर कराई जाए। उन्होंने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि यदि ठेकेदार द्वारा गुणवत्ता युक्त कार्य नहीं किया जाता है तो संबंधित के विरुद्ध कार्यवाही होगी और एफआईआर दर्ज की जाएगी। उन्होंने कहा कि नल कनेक्शन के दौरान बनाए जा रहे प्लेटफार्म भी सही बनना चाहिए। पीएचई के कार्यपालन यंत्री को निर्देश देते हुए कहा कि विकासखंडवार प्रत्येक ठेकेदार के कार्य की मॉनिटरिंग की जाए। जांच दल बनाकर कार्य की गुणवत्ता देखें।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.