त्रयोदसी पर हुआ पैदल संघ व भव्य मेले का आयोजन हजारों भक्तो ने लगाई हाजरी, मांगी मन्नते


मां के जयकारों से गुंजा कुर्जा मन्दिर, कुर्जा मन्दिर के पंचम वर्षगांठ 18 को

बाड़मेर। बाड़मेर शहर से 12 किलोमीटर दूर मालू भाईपा समाज संस्थान द्वारा निर्मित कुलदेवी संच्चियाय माता मन्दिर कुर्जा में त्रयोदसी को मां के दरबार में रात्रि जागरण, पैदल संघ व भव्य मेले का आयोजन किया गया। मेले को लेकर संस्थान की ओर से विशेषतौर से मां प्रतिमा श्रृगांर के साथ साथ लाईटिंग एवं फूलो सजावट की गई। मन्दिर प्रागण में प्रातः से ही कतारें लग गई। भक्तजानों ने माता के दर्शन कर मन्न्नते मंागी। मालू भाईपा समाज संस्थान के वरिष्ठ उपाध्यक्ष कैलाश मेहता मालेगांव व सहमंत्री रमेश मालू बाछड़ाऊ ने बताया कि त्रयोदसी मेले के उपलक्ष में बारस रविवार को रात्रि में आशीष जैन अहमदाबाद की और से रात्रि जागरण का आयोजन किया, जिसमें चढावें गये और पक्षाल व पुष्प माला का लाभ सुरेश कुमार मोहनलाल मेहता, वेश का लाभ नेमीचन्द गंगाराम मेहता परिवार, तिलक का लाभ बाबूलाल हंजारीमल मालू परिवार कगाउ वाले और आरती का लाभ अशोककुमार शंकरलाल धारीवाल परिवार द्वारा लिया गया। पैदल संघ स्थानीय कल्याणपुरा माणक हॉस्पीटल से रवाना हुआ। मां संच्चियाय भक्तों की ओर से निकाले गये इस 12 किलोमीटर दुर कुर्जा पैदल संघ अशोक कवास, प्रवीण मालू व सुरेश मालू रामसर के नेतृत्व में सैकडो युवक व युवतियो व बच्चो के साथ माता जी की जयकारों के साथ पताका हाथ लिये डीजे की धुन के साथ रवाना हुआ। मालू ने बताया कि माता के जयकारे के साथ पैदल यात्री कल्याणपुरा, प्रताप जी की प्रोल, करमु जी की गली, चौहटन रोड, कुशल वाटिका होता हुआ मां संिच्चयाय के रथ साथ कुर्जा मन्दिर पहुंचा। उन्होने बताया कि पैदल संघ में बाड़मेर से जाने वाले माताजी के भक्त हर्षोल्लास के साथ पैदल संघ के साथ कुर्जा पहुंचने पर ट्रस्ट मण्डल की अगुवानी में ढोल ढमाको से स्वागत किया गया और पैदल यात्रियों को गंगाराम नेमीचन्द मेहता परिवार की और प्रभावना दी गई। प्रातः 09 बजे भव्य आरती का आयोजन किया गया। आरती के दौरान माता के जयकारों से मन्दिर परिसर गुंजायमान हो गया। उसके बाद माता को भोग लगाया गया। भोग की प्रसादी का वितरण किया गया। मालू ने बताया कि जयकारों से गूंजा मंदिर परिसर-त्रयोदशी के मेले में मंदिर परिसर श्रद्धालुओं के जयकारों से गुंज उठा। जयकारों के चलते पूरे दिन मंदिर का माहौल धर्ममय बना रहा। श्रद्धालुओं ने मंदिर परिसर में स्थित काला व गौरा भैरव व लक्ष्मी माता, सरस्वती माता के मंदिर में भी विधि- विधान से पूजा अर्चना की। दिन भर श्रद्धालुओं की आवाजाही के चलते मंदिर प्रांगण छोटा नजर आ रहा था। मेले में बाडमेर, चौहटन, गुडा, सनावडा, धोरीमन्ना, रामसर, जोधपुर, सांचौर, अहमदाबाद, सुरत, जिजनियाली, सहित आस-पास से कई क्षेत्रो से हजारों मां के भक्तों दर्शन लाभ लिया। इस अवसर पर रिखबदास मालू, मोहनलाल मालू दाडी, बाबूलाल मालू कगाउ, भंवरलाल मालू मालाणी, कैलाश मेहता मालेगांव, मेवाराम मालू, इजि.दिलीप जैन, कैलाश झाख, अशोक कवास, बांकीदास मालू, बंशीधर मेहता, गणपत मालू चौहटन, भगवानदास मालू, प्रकाश मालू, नेमीचन्द इवेन्ट, सुरेश आरंग, रतनलाल मालू, इन्दलाल मालू, लंकेश मालू रामसर, भैरूलाल सांचौर, सम्पतराज बोथरा दिल्ली, पवन पटुडा, सुरेश मालू, जितेन्द्र मालू, कपिल मालू, मुकेश बोहरा अमन, धनराज मालू, जोगेन्द्र मेहता, विक्रम मेहता, जितेन्द्र मेहता, सुरेन्द्र मेहता, गौतम वाघबकरी, सहित सहित मां संच्चियाय भक्त मण्डल व मां संच्चियाय बालिका सेवा मण्डल व युवा मण्डल सहित कई हजारो मां के भक्तो ने मां के दरबार में हाजरी लगाई।
कुर्जा मन्दिर की पंचम वर्षगांठ 18 को- राष्टीय राजमार्ग-68 बाडमेर अहमदाबाद रोड पर स्थित मालू भाईपा समाज द्वारा निर्मित मालू गौत्रीय कुलदेवी श्री संच्चियाय माता मन्दिर कुर्जा की पंचम वर्षगांठ 18 फरवरी फाल्गुन वदी दूज को मनायी जायेगी। मालू भाईपा समाज के अध्यक्ष प्रकाशचन्द मेहता व ट्रस्टी नेमीचन्द मालू ने बताया कि मालू भाईपा समाज द्वारा निर्मित मालू गौत्रीय कुलदेवी श्री संच्चियाय माता मन्दिर कुर्जा की पंचम वर्षगांठ स्थानीय पण्डित के पावन सानिध्य में प्रातः 7.30 बजे यज्ञ, 8 बजे मूर्ति पक्षाल, 11 बजे प्रसादी, दोपहर 12.39 बजे कुलदेवी संच्चियाय माता मन्दिर की ध्वजा लाभार्थी परिवार मांगीलाल आसूलाल गोपचन्दोणी मालू परिवार चौहटन वाले हाल सुरत द्वारा मंत्रोचार के साथ चढाई जायेगी एवम दोपहर 1 बजे महाआरती का आयोजन होगा। पंचम वर्षगांठ के उपलक्ष में कुलदेवी मन्दिर को रंगीन रोशनी व फूलो द्वारा जायेगा, वर्षगांठ कार्यक्रम में आस-पास के क्षेत्रो सहित पुरे भारतभर से हजारों माता के भक्त शिरकत करेगे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.