अनंत चर्तुदशी में विर्सजन के दौरान देश के कई राज्यों में 15 लोगों की डूबने से मौत


नई दिल्ली रिद्धी-सिद्धि के देवता भगवान श्री गणेश की विदाई पर विसर्जन के दौरान देश के अलग अलग राज्यों में कई हादसे हुए हैं। महाराष्ट्र, हरियाणा, उत्तर प्रदेश में गणपति प्रतिमा विसर्जन के दौरान हुई दुर्घटनाओं में 15 लोगों की मौत हो गई, वहीं कई अन्य घायल हुए हैं। हरियाणा के महेंद्रगढ़ में झगड़ोली नहर में गणेश की प्रतिमा के साथ 8 लोग बह गए, जिनमें से 4 की मौत हो गई। वहीं, सोनीपत में यमुना नदी में डूबकर 2 की मौत हो गई, 2 अभी लापता हैं। उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में भी 8 लोगों की मौत की खबर है। संत कबीर नगर में आमी नदी में गणपति विसर्जन के दौरान 4 बच्चे डूब गए, चारों भाई-बहन थे। सभी के शव निकाल लिए गए हैं। वहीं​​​​​, ललितपुर और उन्नाव में 2-2 लोगों की विसर्जन के दौरान डूबने से मौत हो गई है।
पुलिस के मुताबिक संतकबीर नगर में भाई नदी में उतरा तो डूबने लगा। उसे बचाने के चक्कर में तीनों बहनें भी पानी में उतर गईं। चारों की डूबने से मौत हो गई। मुंबई के पनवेल में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान जेनरेटर मशीन का तार टूट जाने से 11 लोगों को करंट लग गया। इनमें से एक आईसीयू में भर्ती है। यह घटना पनवेल के वाडघर इलाके में एक विसर्जन के दौरान हुई। पनवेल नगर निगम प्रमुख गणेश देशमुख ने मीडिया को बताया कि स्थानीय पुलिस उपायुक्त शिवराज पाटिल और उन्होंने 7 घायलों को पनवेल उप जिला अस्पताल में भर्ती कराया और 4 लाइफलाइन अस्पताल में हैं। एक आईसीयू में है। इस दुर्घटना में घायल लोगों में 5 और 15 साल के छोटे बच्चे हैं।
हरियाणा के महेंद्रगढ़ और सोनीपत में गणपति विसर्जन के दौरान 2 हादसे हुए। कनीना।रेवाडी रोड पर स्थित गांव झगड़ोली के पास नहर में गणेश की प्रतिमा विसर्जित करने गए 9 लोग पानी के तेज बहाव में बह गए। देर रात 8 लोगों को नहर से बाहर निकाला गया। इनमें से 4 की मौत हो गई। अन्य 4 को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसी तरह सोनीपत में यमुना घाट पर 3 की डूबने से मौत हो गई। महेंद्रगढ़ में मृतकों की पहचान टिंकू, आकाश, नितिन और निकुंज के रूप में हुई है। इनकी उम्र 18 से 23 साल के बीच थी। मनोज, दीपक, सुनील, संजय गंभीर हालत में अस्पताल में हैं।
हरियाणा के सोनीपत में यमुना नदी के मीमारपुर घाट पर गणपति की प्रतिमा विसर्जन के दौरान सुंदर सांवरी निवासी सुनील (45), उनका बेटा कार्तिक (13) और भतीजा दीपक (20) डूब गए। देर रात को सुनील और उनके भतीजे दीपक का शव बरामद हुआ। कार्तिक की तलाश जारी है। वहीं, यमुना के बेगा घाट पर रेहड़ा बस्ती का सुमित (22) पानी के तेज बहाव में बह गया। प्रतिमा विसर्जन के लिए वह अपने 6 अन्य साथियों के साथ यमुना नदी में उतरा था। उसके बाकी साथियों को बचा लिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.