महाराष्ट्र के सांगली में बच्चा चोर होने के शक में भीड़ ने चार साधुओं को पीटा


मुंबई। महाराष्ट्र के सांगली में बच्चा चोर होने के शक में भीड़ ने 4 साधुओं को बुरी तरह पिटाई कर दी। साधुओं पर हमला करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। हालांकि, इस मामले में अब तक पुलिस में कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र में इससे पहले भी साधुओं पर हमले की खबर आती रही है।
दरअसल, यह घटना जाट तहसील के लवंगा गांव में उस समय हुई, जब उत्तर प्रदेश के रहने वाले चार साधु एक कार में कर्नाटक के बीजापुर से पंढरपुर शहर की ओर जा रहे थे। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि ये लोग सोमवार को गांव के एक मंदिर में रुके थे और मंगलवार को यात्रा शुरू करते समय उन्होंने एक लड़के से रास्ता पूछा, जिससे कुछ स्थानीय लोगों को संदेह हुआ कि वे बच्चों का अपहरण करने वाले आपराधिक गिरोह का हिस्सा हैं।
इसी के दौरान दोनों पक्षों के बीच कहासुनी शुरू हो गई, जो देखते ही देखते बढ़ गई और स्थानीय लोगों ने साधुओं को कथित तौर पर लाठियों से पीट दिया। अधिकारी ने कहा कि पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और पाया कि साधु उत्तर प्रदेश के एक अखाड़े के सदस्य हैं। साधुओं पर भीड़ के हमले की खबर सामने आने के बाद सांगली के एसपी दीक्षित गेदाम ने कहा कि इस मामले में हमें अब तक कोई शिकायत नहीं मिली है। हालांकि, हम अपने स्तर से वायरल वीडियो और तथ्यों की पुष्टि कर रहे हैं।
बता दें कि यह पहली बार नहीं है, जब महाराष्ट्र में साधुओं के साथ मारपीट की गई है। इससे पहले सन 2020 में महाराष्ट्र के पालघर जिले के गढचिंचाले गांव में भीड़ ने इसी वजह से पीट-पीटकर तीन साधुओं की हत्या कर दी थी। इनमें से दो साधु थे, जबकि तीसरा ड्राइवर था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.