लद्दाख- फिंगर एरिया में चीनी सेना ने कर रखे हैं पक्के निर्माण, तनाव अभी भी बरकरार

नई दिल्ली । भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर विगत तीन माह से चल रहे तनाव में अब थोड़ी नरमी दिखने को मिल रही है। 15 जून को गलवान घाटी में खूनी झड़प वाली जगह से ड्रैगन की सेना पूरी तरह हट चुकी है। इस बीच, गोगरा, हॉट स्प्रिंग और पूर्वी लद्दाख में बफर जोन बनाया जा रहा है। दोनों पक्ष विवादित क्षेत्र से सेना हटाने को लेकर लगातार बात भी कर रही है। पैंगोंग लेक इलाके के फिंगर एरिया में चीनी सेना ने पक्के निर्माण कर रखे हैं और यहां अभी भी तनाव बरकरार है
हालांकि अभी सबसे बड़ी चुनौती है कि बफर जोन को सही तरीके से लागू कर दिया जाए और आगे कोई और घटना न हो। इस बीच पैंगोंग लेक इलाके में अभी भी स्थिति तनावपूर्ण था। फिंगर इलाके से चीनी सैनिकों को हटाने काफी मुश्किल वाला होगा क्योंकि यहां बड़े पैमाने पर चीनी सेना ने आधारभूत ढांचा बना लिया है। एक सूत्र ने बताया कि चीन ने यहां कई तरह का ठिकाना और सैनिकों के पक्के बंकर बना लिए हैं। गलवान घाटी को पूरी तरह से खाली कर दिया गया है और यहां 4 किलोमीटर का बफर जोन बनाया गया है और इसे यहां आने वाले समय में सैनिकों के हटने तक कोई गतिविधि नहीं होगी। घटना से जुड़े सूत्रों ने बताया कि ऐसा ही बफर जोन गोगोरा और हॉट स्प्रिंग इलाके में भी बनाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.