किसान पुत्र

गर्मी में शिशु की नाजुक त्वचा रहेगी हेल्दी, जब करेंगे इस तरह देखभाल


Skin care Tips for Babies: चिलचिलाती और भीषण गर्मी में बड़ों की त्वचा धूप में झुलस जाती है. फोड़े-फुंसियां, रैशेज, घमौरियां, खुजली आदि हो जाती हैं, तो छोटे बच्चों और शिशुओं की त्वचा तो बेहद नाजुक और कोमल होती है. उनकी त्वचा का ध्यान ना रखें तो स्किन पर बहुत जल्द रैशेज, दानें आदि निकल आते हैं. ऐसे में शिशुओं की त्वचा का खास देखभाल करने की जरूरत होती है. बच्चों को तो घर में रखने से भी उनकी त्वचा गर्मी के कारण प्रभावित होती हैं. ऐसे में इस भीषण गर्मी में शिशुओं की त्वचा की प्रॉपर देखभाल बेहद जरूरी हो जाती है. यहां बताए गए कुछ टिप्स को फॉलो करके आप अपने बच्चे की नाजुक त्वचा को इस गर्मी में स्वस्थ रख सकते हैं.

शिशुओं की त्वचा का यूं रखें गर्मी में ख्याल
ओन्लीमाईहेल्थ में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, अधिकतर पेरेंट्स अपने शिशु को हर दिन नहलाने से घबराते हैं. उन्हें लगता है कि उनका बच्चा बीमार ना पड़ जाए, लेकिन आप अपने मन से ये डर निकाल दें. गर्मी के मौसम में शिशु को नहलाने से कोई समस्या नहीं होती. शिशु को हर दिन जरूर नहलाएं. जैसा कि बड़े नहाने के बाद तरोताजा महसूस करते हैं, ठीक उसी तरह शिशु को भी फ्रेश महसूस होता है. वे साफ-सुथरा होकर चैन की नींद भी ले पाते हैं. इससे उनकी नाजुक त्वचा पर जमी गंदगी, पसीना सब साफ हो जाएंगे और किसी भी तरह का स्किन इंफेक्शन नहीं होगा.

इसे भी पढ़ें: शिशु के फटे गाल और स्किन की देखभाल करने के लिए अपनाएं ये 5 उपाय

शिशु को गर्मी में नहलाने के टिप्स

  • पानी का तापमान चेक कर लें. ना तो बहुत गर्म हो और ना ही बहुत ठंडा. सामान्य पानी में नहलाएं.
    आप प्रतिदिन शैम्पू या साबुन ना भी लगाएं तो चलेगा. पानी से नहलाने से भी शिशु की त्वचा साफ हो जाएगी. पसीना, गंदगी हट जाएगा.
  • यदि शिशु की त्वचा ड्राई है, तो उसे अधिक रगड़ने से बचें. हल्के हाथों से साफ करने की कोशिश करें.
  • ड्राइनेस से बचाए रखने के लिए बेबी क्रीम, लोशन लगाएं.

कॉटन फैब्रिक के ढीले कपड़े पहनाएं
बच्चों को बहुत ज्यादा टाइट कपड़े पहनाकर ना रखें. शिशु की त्वचा को भी खुलकर सांस लेने दें. बच्चे बोल नहीं पाते, लेकिन उन्हें भी गर्मी लगती है, वो भी परेशान होते हैं, जिस तरह आपको गर्मी में तंग कपड़े पहनने पर महसूस होता है. गर्मी में शिशु और छोटे बच्चों को भी आरामदायक, ढीले-ढाले कॉटन के कपड़े ही पहनाएं.

इसे भी पढ़ें: नवजात शिशुओं में दिख रहे हैं ऐसे लक्षण तो तुरंत ले जाएं डॉक्टर के पास

शिशु की त्वचा ना होने पाए ड्राई
शिशु की त्वचा बेहद नाजुक होती है. जल्दी ड्राई और डल हो जाती है. यदि प्रॉपर तरीके से मॉइश्चराइज ना रखें, तो त्वचा की नमी खो जाती है. ऐसे में मॉइश्चराइज का ध्यान रखें. सनबर्न से भी बचाएं. बाहर जा रहे हैं, तो शिशु को पूरे कपड़े पहनाकर रखें. टोपी पहनाएं. छाता साथ में रखें. हीट रैश से बचाए रखने के ये आसान तरीके हैं. बेबी सन्सक्रीन लगाएं.

दोपहर के समय शिशु को घर से बाहर ना ले जाएं
अपने बच्चे को जितना हो सके, घर के अंदर ही रखें. दोपहर के समय बाहर भूलकर भी ना ले जाएं वरना लू, हीट स्ट्रोक के साथ स्किन की समस्याएं हो सकती हैं. घर में भी लगातार एसी में ना रखें. ऐसा करने से जब भी शिशु को बाहर ले जाएंगे, उसकी त्वचा बाहर की हल्की गर्मी भी बर्दाश्त नहीं कर पाएगी. ज्यादा देर तक ऐसे में रखने से त्वचा ड्राई हो जाती है, सारी नमी खो जाती है. इससे बच्चे को और खुजली, इचिंग की समस्या हो सकती है.

शिशु को रखें हाइड्रेटेड
हेल्दी स्किन के लिए त्वचा को हाइड्रेटेड रखना बहुत जरूरी है. इससे स्किन की कोई समस्या नहीं होगी. शिशु को प्यास ना लगी हो, तो भी आप बीच-बीच में तीन-चार चम्मच पानी पिलाती रहें. कुछ पेरेंट्स सोचते हैं कि बच्चे को पसीना नहीं आ रहा है, तो वह अच्छी तरह से हाइड्रेटेड है. ऐसा नहीं है. हाइड्रेशन बनाए रखने के लिए छह महीने के बाद पानी और जूस पिलाना आवश्यक है.

Tags: Health, Lifestyle, Parenting tips, Summer



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: