किसान पुत्र

रवींद्र जडेजा ने कुबूल तो किया कि कप्तानी उनके बस में नहीं, वर्ना अहंकार तो… ग्रीम स्वान ने की तारीफ


नई दिल्ली. आईपीएल के मौजूदा सीजन से ऐन पहले रवींद्र जडेजा को चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी सौंपी गई थी. अपनी कप्तानी में चेन्नई को 4 बार चैंपियन बनाने वाले दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी ने ही जडेजा को जिम्मेदारी देने का फैसला किया. अब सीजन के बीच ही जडेजा ने कप्तानी धोनी को वापिस सौंप दी. जडेजा की कप्तानी में चेन्नई टीम का प्रदर्शन काफी खराब रहा. यहां तक कि इस भारतीय ऑलराउंडर का व्यक्तिगत प्रदर्शन भी खास नहीं रहा. जब जडेजा ने कप्तानी छोड़ने का फैसला किया तो क्रिकेट जगत के कई बड़े नामों ने उनकी सराहना की.

रवींद्र जडेजा के सीएसके की कप्तानी छोड़ने के फैसले का ग्रीम स्वान और भारत के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने भी समर्थन किया. स्वान ने कहा कि ऑलराउंडर के लिए यह स्वीकार करना बहुत ईमानदारी भरा फैसला था कि कप्तानी उनके बस से बाहर है. वह इसके साथ सहज नहीं हैं. पूर्व इंग्लिश क्रिकेटर ने यह भी कहा कि कभी-कभी अहंकार लोगों को चीजें आसानी से स्वीकार करने की अनुमति नहीं देता है लेकिन जडेजा ने सराहनीय कदम उठाया.

इसे भी देखें, रवींद्र जडेजा की फॉर्म को लेकर क्यों चिंतित नहीं हैं CSK के हेड कोच स्टीवन फ्लेमिंग? 

स्वान ने स्टार स्पोर्ट्स से कहा, ‘हम सभी के पास हमारी पसंदीदा टीमें हैं. जडेजा के लिए यह स्वीकार करना इतनी बड़ी बात है कि ‘देखो, कप्तानी मेरी लीग से बाहर है. मैं इसके साथ सहज नहीं हूं. अहंकार आपको इसे आराम से कहने की अनुमति नहीं देता है. इसलिए, तथ्य यह है कि उन्होंने यह कदम उठाया और एमएस (धोनी) को वापिस नेतृत्व करने के लिए कहा. यह उनके लिए भी बेहतर है.’

उन्होंने आगे कहा, ‘सीएसके टीम ही नहीं, यह फैंस और उसे चाहने वालों के लिए भी अच्छी खबर है. ईमानदारी से, मैं भी उन्हें पसंद करता हूं. मुझे लगता है कि वह शानदार हैं. वह किसी भी फ्रेंचाइजी को जो देते हैं, वह अविश्वसनीय है. सीएसके टीम उनके बिना आधी होगी.’

Tags: Chennai super kings, Cricket news, Csk, IPL 2022, Ms dhoni, Ravindra jadeja



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: