किसान पुत्र

अपनी डेली डाइट में कैसे शामिल करें ‘ब्रेन बूस्टर’ चुकंदर, जानिए


Beetroot Benefits: वैसे तो चुकंदर खाना हर किसी को पंसद नहीं आता, लेकिन इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है कि इससे आपकी सेहत को बहुत फायदे होते हैं. मैरून रंग की ये सब्जी मिनरल्स और जरूरी विटामिन से लेकर पौधों के यौगिकों यानी प्लांट कंपाउंड तक कई पोषक तत्वों से भरपूर होती है, जो विभिन्न बीमारियों के इलाज में फायदेमंद होती है. चुकंदर दिमाग की कार्यप्रणाली यानी ब्रेन फंक्शनिंग में भी सुधार कर सकता है. जी हां, आपने सही पढ़ा है.

हमारी मानसिक और संज्ञानात्मक कार्यप्रणाली (cognitive functioning) उम्र के साथ स्वाभाविक रूप से कम हो जाती है. हालांकि, चुकंदर में मौजूद नाइट्रेट ब्लड वेसल के फैलाव को बढ़ावा देकर ब्रेन की कार्यप्रणाली में सुधार कर सकते हैं. ये ब्रेन में ब्लड के फ्लो को बढ़ाने में मदद करता है. यहां कुछ तरीके दिए गए हैं, जिनसे आप चुकंदर को अपने डेली डाइट में शामिल कर सकते हैं.

सलाद के रूप में
चुकंदर के बारे में अच्छी बात ये है कि आपको इसे हमेशा पकाने की जरूरत नहीं होती है, आप सीधे सलाद के रूप में भी ले सकते हैं. लेकिन अगर आप इसके स्वाद के कारण इसका सेवन पूरी तरह से नहीं कर पा रहे हैं, तो आप इसका स्वाद बढ़ाने के लिए इसमें थोड़ा सा नींबू या नमक मिला सकते हैं. आप इसे हर डाइट के साथ ले सकते हैं.

यह भी पढ़ें-
World Lupus Day 2022: ऑटोइम्यून डिजीज ल्यूपस के लक्षणों को ना करें नजरअंदाज, मस्तिष्क, किडनी, त्वचा हो सकती है प्रभावित

चुकंदर का जूस
अगर आपको इसे कच्चे रूप में चबाना मुश्किल हो रहा है, तो आप चुकंदर का जूस बनाकर सुबह नाश्ते के समय ले सकते हैं. अगर आपके लिए केवल चुकंदर का जूस पीना मुश्किल हो रहा है हैं, तो आप इसमें कुछ अतिरिक्त सब्जियां और अपनी पसंद के फल मिला सकते हैं और चुकंदर के साथ मिश्रित फल या मिश्रित सब्जी का जूस बना सकते हैं.

चुकंदर का पराठा
बहुत पसंद किए जाने वाले आलू के पराठे की तरह, चुकंदर का पराठा एक गेहूं की रोटी है जैसी है, जो मसालेदार चुकंदर से भरी जाती है. अन्य पराठों से अलग, चुकंदर के पराठों में चुकंदर से आने वाला एक हल्का मीठा स्वाद होता है, जो इसे बिलकुल अलग बनाता है. आप इस पराठे को अचार या दही के साथ परोस सकते हैं.

चुकंदर कबाब
ये स्वादिष्ट कबाब गाजर और चुकंदर को कद्दूकस करके और दलिया और मसालों का उपयोग करके तैयार किए जाते हैं. इन कबाब का स्वाद बढ़ाने के लिए आप इन कबाब को पुदीने की चटनी के साथ शाम के नाश्ते के रूप में परोस सकते हैं.

यह भी पढ़ें-
दही में भुना जीरा डालकर खाने के कई हैं फायदे, डायबिटीज, बीपी को भी रखता है नियंत्रित

चुकंदर का हलवा
चुकंदर का हलवा धीरे-धीरे पकाई जाने वाली मिठाई है, जिसे कद्दूकस किए हुए चुकंदर, दूध, चीनी, इलायची और सूखे मेवों से तैयार किया जाता है. इस हलवे का अनोखा रंग आपको जरूर मदहोश कर देगा. याद करने की बात नहीं है, ये स्वास्थ्य लाभ और स्वाद से भरपूर है.

Tags: Food, Health, Health News, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: