किसान पुत्र

‘मैं हर साल एक नया शॉट खेलने का प्रयास करता हूं…’ जितेश शर्मा ने क्यों जताया वीरेंद्र सहवाग का आभार ?


नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग 2022 में सफल पदार्पण करने वाले जितेश शर्मा ने अपने विविध शॉट खेलने की क्षमता का श्रेय ‘प्रत्येक साल’ एक नया शॉट सीखने की आदत को दिया है. विदर्भ के लिए 2014 से सीमित ओवरों का क्रिकेट खेल रहे 28 साल के विकेटकीपर बल्लेबाज ने पंजाब किंग्स की ओर से अपने विविध शॉट खेलने की क्षमता से प्रभावित किया है.

आईपीएल में पदार्पण के बाद जितेश ने ना सिर्फ अंतिम एकादश में अपनी जगह स्थापित की है बल्कि पंजाब किंग्स की टीम उन पर और लियाम लिविंगस्टोन पर ‘फिनिशर’ के रूप में निर्भर है. जितेश ने सात पारियों में तीन बार 30 से अधिक रन बनाते हुए कुल 162 रन बनाए हैं और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 167 रन का रहा है.

यह भी पढ़ें:‘परिणाम से निराश लेकिन फिर भी एक यादगार शाम…’ जसप्रीत बुमराह ने शेयर किया इमोशनल पोस्ट

जसप्रीत बुमराह का छलका दर्द… बोले- बाहर बहुत शोर हो रहा है लेकिन मुझे उससे फर्क नहीं पड़ता

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 18 गेंद में 38 रन बनाने के बाद दिग्गज बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने टी20 विश्व कप के लिए उन्हें रिजर्व विकेटकीपर के तौर पर भारतीय टीम में शामिल करने की वकालत की है. जितेश ने कहा, ‘आभारी हूं कि सहवाग ने मेरे बारे में यह बात कही है लेकिन मैं वही कर सकता हूं जो मेरे नियंत्रण में है और चयन निश्चित तौर पर मेरे नियंत्रण में नहीं है. मैंने उम्मीद नहीं की थी कि मेरे लिए आईपीएल सत्र ऐसा रहेगा. एक क्रिकेटर के रूप में आप सिर्फ सही मानसिकता रखने और प्रदर्शन पर ध्यान देने का प्रयास कर सकते हैं, बाकी चीजें नियंत्रण में नहीं होती. मैं सिर्फ यही करने का प्रयास करता हूं.’

जितेश ने मैदान के चारों तरफ बाउंड्री जड़ने की अपनी क्षमता से प्रभावित किया है. पिछले मैच में उन्होंने फॉर्म में चल रहे लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल पर फ्लिक से शानदार छक्का जड़ा और फिर दो गेंद बाद प्रसिद्ध कृष्णा की धीमी गेंद पर मिड आफ के क्षेत्ररक्षण के ऊपर से छक्का लगाया. जितेश ने कहा कि उन्होंने प्रत्येक साल एक नया शॉट सीखने का प्रयास किया है.

बकौल जितेश, ‘ मैंने इस पर (विविध शॉट खेलने की क्षमता पर) कड़ी मेहनत की है. सीधे बल्ले से खेलना मेरा मजबूत पक्ष है. यह तैयारी पर निर्भर करता है. मैं प्रत्येक साल एक नया शॉट खेलने का प्रयास करता हूं या कुछ नया सीखने की कोशिश करता हूं. पंजाब के कोच जूलियन वुड के मार्गदर्शन में जितेश के बड़े शॉट खेलने की क्षमता में सुधार हुआ. टूर्नामेंट के दौरान मैं कुछ अलग करने का प्रयास नहीं करता. इतने वर्षों से जो सीखा है बस वही करता हूं. मैंने थोड़ा बदलाव किया है जिसमें बड़े शॉट खेलने की क्षमता भी शामिल है। हमारे कोच ने हमें यही सिखाया है.’

Tags: IPL, IPL 2022, Punjab Kings, Virender sehwag



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: