किसान पुत्र

IPL Playoffs: पंजाब किंग्स के लिए आसान है प्लेऑफ में पहुंचना, बस करना होगा यह काम


नई दिल्ली. आईपीएल 2022 अब ‘करो या मरो’ के मुकाबलों में तब्दील होता नजर आ रहा है. लीग में 59 मैच हो चुके हैं और गुजरात टाइटंस को छोड़कर किसी भी टीम का प्लेऑफ (IPL Playoffs) खेलना तय नहीं है. दूसरी ओर, मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स को छोड़कर हर टीम प्लेऑफ की रेस में बनी हुई है. यहां तक कि प्वाइंट टेबल (IPL Point Table) में आठवें नंबर पर काबिज पंजाब किंग्स (Punjab Kings) भी इस रेस में दमदारी से मौजूद है. उसके पास अब भी प्वाइंट टेबल में तीसरे या चौथे स्थान पर काबिज टीमों को पीछे छोड़ने का मौका है. आइए जानें कैसे.

आईपीएल 2022 (IPL 2022) के प्लेऑफ का समीकरण जानने से पहले प्वाइंट टेबल की मौजूदा स्थिति जान लेते हैं. गुजरात टाइटंस (18 अंक) टेबल टॉपर है. वह 18 अंक के साथ पहले और लखनऊ सुपर किंग्स (16) दूसरे नंबर पर है. राजस्थान रॉयल्स (14) तीसरे और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (14) चौथे नंबर पर है. इनके बाद दिल्ली कैपिटल्स (12), सनराइजर्स हैदराबाद (10) और कोलकाता नाइटराइडर्स (10) हैं. आखिरी तीन स्थानों पर पंजाब (10), चेन्नई सुपर किंग्स (8) और मुंबई इंडियंस (6) हैं.

आज आईपीएल 2022 का 60वां मुकाबला है, जो पंजाब किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Punjab Kings vs Royal Challengers Bangalore) के बीच खेला जाएगा. हम यहां पंजाब किंग्स के प्लेऑफ में पहुंचने के समीकरण की बात कर रहे हैं, जिसके कप्तान मयंक अग्रवाल हैं. इसलिए फिलहाल पंजाब पर ही फोकस करते हैं. इस टीम का प्लेऑफ में पहुंचने का रास्ता जीत और सिर्फ जीत से होकर गुजरता है. उसे आज बैंगलोर से मैच खेलना है. इसके बाद उसे 16 मई को दिल्ली और 22 मई को हैदराबाद से मैच खेलना है.

पंजाब किंग्स के अभी अभी 11 मैच में 5 जीत से 10 अंक हैं. यदि वह अपने बाकी बचे तीन मैच (vs बैंगलोर, दिल्ली, हैदराबाद) जीत ले तो उसके 14 मैच से 16 अंक हो जाएंगे. ऐसा होने पर वह दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स हैदराबाद को प्लेऑफ की रेस से बाहर कर देगी. सिर्फ बैंगलोर ही पंजाब के मुकाबले में रह जाएगी. बैंगलोर के लिए भी इसके लिए ना सिर्फ अपना आखिरी मैच (vs गुजरात) जीतना होगा, बल्कि उसे अपना रनरेट भी सुधारना होगा.

पंजाब का पहला टारगेट
पंजाब किंग्स का पहला टारगेट आरसीबी को हराना है. बैंगलोर के अभी 12 मैच में 14 अंक हैं. अगर वह पंजाब से हार जाए तो उसके लिए आखिरी मुकाबला करो या मरो का हो जाएगा. अगर वह गुजरात से अपना आखिरी मुकाबला जीती तो भी उसके अधिकतम 16 अंक ही हो पाएंगे. यानी पंजाब के बराबर. ऐसे में रनरेट निर्णायक हो जाएगा.

पंजाब का दूसरा टारगेट
पंजाब किंग्स की टीम बैंगलोर को हराने के बाद दिल्ली कैपिटल्स को भी हराए. दिल्ली के अभी 12 मैच में 12 अंक हैं. उसके लिए सारे मुकाबले करो या मरो के हो चुके हैं. अगर वह पंजाब से हार जाए तो वह 16 अंक तक नहीं पहुंच पाएगी. यानी प्लेऑफ से बाहर हो जाएगी.

पंजाब का तीसरा टारगेट
पंजाब किंग्स का तीसरा टारगेट सनराइजर्स हैदराबाद को हराना है. हैदराबाद के अभी 11 मैच में 10 अंक हैं. अगर हैदराबाद की टीम पंजाब से हार जाए तो वह अधिकतम 14 अंक तक ही पहुंच पाएगी. कम से कम मौजूदा हालात में 14 अंक वाली टीमों का प्लेऑफ में खेलना पक्का नहीं कहा जा सकता. इसके लिए 16 अंक तक पहुंचना जरूरी लग रहा है.

मुंबई, चेन्नई और कोलकाता…
मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स पहले ही प्लेऑफ की रेस से बाहर हैं. कोलकाता नाइटराइडर्स की हालत भी खराब है. उसके अभी 12 मैच में 12 अंक हैं. अगर वह अपने बाकी बचे दोनों मैच जीत जाए तो भी 16 अंक तक नहीं पहुंच पाएगी.

Tags: IPL, IPL 2022, IPL Play-offs, IPL Playoff, Punjab Kings, Royal Challengers Bangalore



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: