किसान पुत्र

IPL 2022: मोहम्मद शमी ने कहा- मैं पेस का फैन नहीं, उमरान मलिक को अभी और मेहनत करने की जरूरत


नई. मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) ने आईपीएल 2022 में शानदार गेंदबाजी की है. टी20 लीग के 15वें सीजन में (IPL 2022) यह तेज गेंदबाज गुजरात टाइटंस का हिस्सा है. उन्होंने कहा कि वे सनराइजर्स हैदराबाद के तेज गेंदबाज उमरान मलिक (Umran Malik) की तेजी से प्रभावित जरूर हैं, लेकिन उन्हें अभी और मेहनत करने की जरूरत है. जम्मू-कश्मीर के उमरान ने मौजूदा सीजन में 157 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से सबसे तेज गेंद डाली है. यह आईपीएल इतिहास का दूसरी सबसे तेज हैं. वे आईपीएल में सबसे तेज गेंद फेंकने वाले भारतीय गेंदबाज भी बन गए हैं. इसी के बाद से उनके ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में जगह मिलने की उम्मीद बढ़ गई है. गुजरात की टीम प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई है.

टीम इंडिया के सीनियर गेंदबाज माेहम्मद शमी ने मीडिया से बात करते हुए कहा, मैं व्यक्तिगत रूप से पेस का बहुत बड़ा फैन नहीं हूं. पेस होना सही है, लेकिन अगर आप 140 किमी प्रति घंटा की गति से भी दोनों तरफ गेंद स्विंग करा सकते हैं, तो वह किभी भी बल्लेबाज को परेशान करने के लिए काफी होता है. उन्होंने कहा कि इसलिए मैं कहूंगा कि अभी उमरान मलिक को परिपक्व होने में थोड़ा समय लगेगा. उसके पास गति जरूर है, लेकिन जैसे-जैसे वह मैच खेलता जाएगा. वह गति के साथ अन्य पहलूओं के बारे में भी सीखता जाएगा.

कई युवा तेज गेंदबाज निकले

मोहम्मद शमी आईपीएल से निकल रहे युवा भारतीय तेज गेंदबाजों से प्रभावित दिखे. उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है कि इस सीजन में कई युवा तेज गेंदबाज आत्मविश्वास के साथ गेंदबाजी कर रहे हैं. इतना ही नहीं उन्होंने कमाल का प्रदर्शन भी किया है. एक तेज गेंदबाज के रूप में लगातार बेहतर होने के लिए आपको प्रतिभा के साथ-साथ मैच प्रैक्टिस भी चाहिए होती है. शमी ने कहा कि इस आईपीएल से इन युवा तेज गेंदबाजों को वह मैच प्रैक्टिस मिल रही है. वे सीनियर्स के साथ समय बिता रहे हैं और उनके अनुभवों से भी सीख रहे हैं.

100 फीसदी देने की कोशिश 

अपने प्रदर्शन और सफेद गेंद क्रिकेट में अपने भविष्य के बारे में मोहम्मद शमी ने कहा कि जब-जब मुझे सफेद गेंद की क्रिकेट में मौका मिला है, मैंने 100 प्रतिशत देने की कोशिश की है. इतना ही नहीं मैं सफल भी हुआ हूं. पिछले 3-4 आईपीएल सीजन से मैं सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों में से हूं. शमी पर हमेशा यह सवाल उठते हैं कि वह टी20 मैचों में विकेट तो लेते हैं, लेकिन रन काफी देते हैं. पिछले साल हुए टी20 वर्ल्ड कप के दौरान उन्होंने 5 मैचों में 23 की औसत 6 विकेट लिए थे. इकोनॉमी 8.84 की रही थी. इसके बाद से वे टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं.

T20 इंटरनेशनल में छोटे देश का बड़ा कमाल, सिर्फ 30 हजार है जनसंख्या, पर बल्लेबाजों ने कूट डाले रन

इकोनॉमी को अधिक तवज्जो नहीं

मोहम्मद शमी ने इस पर कहा कि मैं टी20 क्रिकेट में इकोनॉमी को अधिक तवज्जो नहीं देता हूं. जब आप इकोनॉमी की बात करते हैं, तो आपको यह भी देखना चाहिए कि कोई गेंदबाज कब आकर गेंदबाजी कर रहा है. अगर कोई पावरप्ले या अंतिम ओवरों में गेंदबाज़ी करता है, तो निश्चित रूप से इकोनॉमी अधिक होगी. लेकिन इसके साथ वह आपको विकेट भी दिलाता है, जो टीम के लिए बहुत जरूरी है. उन्होंने प्लेऑफ में टीम के पहुंचने पर कप्तान हार्दिक पंड्या और कोच आशीष नेहरा की जमकर तारीफ की. शमी मौजूदा सीजन के 12 मैच में 16 विकेट ले चुके हैं.

Tags: Gujarat Titans, IPL, IPL 2022, Mohammad Shami, Sunrisers Hyderabad, Umran Malik



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: