किसान पुत्र

PCB हुआ मालामाल, पीएसएल से मिली बड़ी राशि, रिजर्व फंड 600 करोड़ से अधिक का हुआ


कराची. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) को पीएसएल-7 के आयोजन से बड़ी कमाई हुई है. बोर्ड से मिली जानकारी के अनुसार, इस साल जनवरी-फरवरी में हुए टी20 लीग के मौजूदा सीजन से (PSL 7) उसे लगभग 92 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है. बोर्ड के प्रवक्ता ने हालांकि इसका खुलासा नहीं किया है कि बोर्ड और फ्रेंचाइजी में इसका वितरण किस तरह से होगा. 2016 के बाद से यह पीसीबी को मिलने वाला सबसे अधिक मुनाफा है. टी20 लीग के 5वें और छठे सीजन में कोरोना के कारण बोर्ड की ओर से सभी फ्रेंचाइजी को खर्च के लिए लगभग 40 करोड़ रुपए सहायता राशि दी गई थी.

बोर्ड के अनुसार, उसके रिजर्व फंड में भी बड़ी बढ़ोतरी हुई है. यह लगभग 480 करोड़ से बढ़कर 602 करोड़ रुपए हो गया है. बोर्ड ने कहा कि 2020 के बाद से कई बोर्ड को नुकसान उठाना पड़ा, लेकिन पीसीबी ने इस दौरान ना सिर्फ अपनी स्थिति बनाए रखी, बल्कि मुनाफा भी कमाया. लीग में उतरने वाली 6 में से कम से कम 5 टीमों को फायदा हुआ है. मालूम हो कि पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया की टीम ने भी पाकिस्तान का दौरा किया था. कंगारू टीम 24 साल बाद यहां आई थी.

अलग-अलग कॉन्ट्रैक्ट मिलेगा

पीसीबी एक जुलाई से अपने कॉन्ट्रैक्ट पाने वाले खिलाड़ियों के लिए एक नई नीति अपनाएगा. जिसमें मौजूदा एक अनुबंध प्रणाली के बजाय दो अलग-अलग फॉर्मेट के लिए नए अनुबंध दिए जाएंगे. बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि लाल गेंद और सफेद गेंद के फॉर्मेट के लिए अलग-अलग अनुबंध दिए जाएंगे. अधिकारी ने कहा कि जो खिलाड़ी अनिवार्य रूप से दोनों फॉर्मेट में देश का प्रतिनिधित्व करते है, उन्हें अलग-अलग लाल गेंद और सफेद गेंद के करार दिए जाएंगे. जिसका मतलब यह है कि वे मौजूदा एक के बजाय 2 अनुबंध हासिल करेंगे.

25 से 30 फीसदी की बढ़ोतरी

उन्होंने कहा कि पीसीबी अध्यक्ष रमीज राजा सैद्धांतिक तौर पर अनुबंध पाने वाले खिलाड़ियों के मासिक रिटेनर में 25 से 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी पर सहमत हो गए हैं. उन्होंने कहा कि विभिन्न श्रेणियों में केंद्रीय अनुबंध प्राप्त खिलाड़ियों के लिए मैच फीस एक समान है. वहीं रिटेनर वरिष्ठता, प्रदर्शन और फिटनेस पर आधारित होंगे. उन्होंने कहा कि इस बात की अधिक संभावना है कि नए केंद्रीय अनुबंध में खिलाड़ियों की मौजूदा संख्या 20 से बढ़कर लगभग 28 से 30 हो जाएगी.

IPL 2022: सचिन तेंदुलकर ने कहा- यह डेथ ओवर्स का भारत का बेहतरीन गेंदबाज, खूबी भी बताई

उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए है, क्योंकि दो अलग-अलग फॉर्मेट में हम अनुबंध देंगे. खिलाड़ियों की संख्या में वृद्धि सबसे अधिक उभरती हुई श्रेणी में होगी. अधिकारी ने बताया कि बोर्ड बड़े खिलाड़ियों के लिए  मुआवजा कोष का गठन करेगा. ऐसे खिलाड़ी अगर देश के प्रतिनिधित्व के लिए विदेशी लीग के करार को छोड़ते हैं, तो बोर्ड उन्हें कुछ रकम का मुआवजा देगा.

Tags: Pakistan, Pcb, PSL, PSL 7, Ramiz Raja



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: